loader image

हैकथॉन में हेल्थ मॉनीटरिंग एंड सिक्युरिटी पर बात

– पांच दिवसीय हैकथॉन में दृष्टिहीनों के लिए ग्लास, हेल्थ मॉनीटरिंग सिस्टम और ऑटोमेटेड मशीन बनाने पर होगी चर्चा

इंदौर। नईदुनिया रिपोर्टर

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) इंदौर में स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2019 के तीसरे संस्करण की शुरुआत सोमवार से हुई है। आयोजन की शुरुआत आईआईटी इंदौर के रिसर्च एंड डेवलपमेंट डीन अभिनव क्रांति ने अतिथियों का स्वागत कर की। आरआरकेट के लेजर एंड मटेरियल साइंस गु्रप के डायरेक्टर डॉ. नखे मुख्य अतिथि थे। डीआरडीओ हैदराबाद के साइंटिस्ट और आरसीआई डायरेक्टर डॉ. करुणानिधि अतिथि के रूप में शामिल हुए। आयोजन में एआईसीटीई के डॉ. अमित दत्ता और परसिस्टेंट सिस्टम के प्रहलाद सनाब भी मौजूद थे।

बेस्ट टीम को एक लाख रुपए तक के प्राइज आयोजन में कम्युनिकेशन और फूड टेक्नोलॉजी विषयों पर भी बात होगी। दृष्टिहीन बच्चों के लिए स्मार्ट ग्लास, हेल्थ मॉनीटरिंग एंड सिक्युरिटी, ग्राफिक्स टिक, साइलेंस बॉक्स, ऑटोमेटेड स्वीट मेकिंग मशीन और इंटरनेट ऑफ थिंक बेस्ड पेस्टीसाइड डिटेक्शन जैसे सिस्टम पर बात होगी। आयोजन में शामिल होने वाले प्रतियोगियों को अवार्ड भी दिए जाएंगे। विजेता टीम को 1 लाख और 50 हजार रुपए की पुरस्कार राशि दी जाएगी। दूसरे और तीसरे पुरस्कार के रूप में 25 हजार रुपए दिए जाएंगे। प्रतियोगिता में शामिल होने वाली टीमों का चयन अनुभवी पैनल द्वारा किया जाएगा। इसमें आईआईटी के वैज्ञानिक, प्रोफेसर और इंडस्ट्रीज के विशेषज्ञ शामिल हैं। प्रतियोगिता के पहले राउंड में 2 लाख छात्रों में से 250 टीमों का चयन किया गया है।